Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
पूर्व राष्ट्रपति, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव की उपस्थिति में 7 जुलाई, 2015 को कन्नौज जनपद की तिर्वा तहसील में 250 कि0वाॅ0 के सोलर पावर प्लाण्ट का लोकार्पण करते हुए।

पूर्व राष्ट्रपति, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव की उपस्थिति में 7 जुलाई, 2015 को कन्नौज जनपद की तिर्वा तहसील में 250 कि0वाॅ0 के सोलर पावर प्लाण्ट का लोकार्पण करते हुए।

बिजुरी चमकी तो चमक उठे चेहरे

गरीबों की बदहाली तो आज की राजनीति में केवल चुनावी मुद्दा होती है, लेकिन इस मुद्दे को प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जमीन पर ला दिया।

ढिबरी की रोशनी में जीवन में 75 बसंत गुजारने वाले शकतर अली के चेहरे पर अजीब सी चमक है। कुछ यही हाल गांव के 62 वर्षीय पाशीद अली का है। उन्हें खुशी है कि बरसों पुराना उनका सपना पूरा होने जा रहा है। उनकी खुशी के साथ उत्साह इस बात का भी है, उनके घर रोशन होने की शुरुआत उनसे होगी, जिन्होंने मिसाइल बनाकर देश की ख्याति को रोशन किया था।

प्रदेश के सबसे बड़े सोलर प्लांट की शुरुआत की तो सबसे पहले गरीब का झोपड़ा रोशन किया। यही कारण है कि पूरे प्रदेश में कन्नौज जिले का गांव फकीरपुरा और चंदुआहार को चुना गया। सामाजिक और आर्थिक विकास में काफी पिछले चंदुआहार और फकीरपुरा गांव की करीब ढाई हजार आबादी है। यहां पर सोलर प्लांट की स्थापना हुई तो यहां के लोगों में गजब का उत्साह दिखाई दे रहा है। गांव के लोगों को उनके घर रोशन हो गया बेहद खुशी छा गई। ग्रामीणों की खुशी इस बात से भी दोगुनी है, जब उन्हें मालूम चला कि पूरे प्रदेश में उनके गांव से ही सोलर एनर्जी की शुरुआत हो रही है। गांव की शहनाज बेगम बताती है कि मायके में तो बिजली थी, लेकिन जब से यहां ब्याह कर आई तो बिजली नहीं थी। उनका भी सपना था कि बच्चे अन्य गांवों के बच्चों की तरह बिजली की रोशनी में पढ़े। लेकिन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के प्रयासों से उनका यह सपना पूरा हो गया है। अब उनकी झोपड़ी भी बिजली की दूधिया रोशनी से जगमग करने लगी है। गांव की वृद्धा कसीदन अपने दोनों हाथ उठाकर मुख्यमंत्री अखिलेश को दुआएं दे रही हैं। गांव का ही युवा सुल्तान अली का कहना है कि उनके पास मोबाइल है। उसकी बैटरी चार्ज करने के लिए बहोसी या लाख गांव जाना पड़ता था। अब वह अपने गांव में ही बिजली चार्ज कर लेंगे।

CM Akhilesh Yadav along with Dr. Kalam, Akhilesh Yadav inaugurated a 250 kilowatt mini solar power system in the Kannauj district. The solar power installation is off-grid and would electrify Fakirpura and Chanduahar villages in Tirwa tehsil of Kannauj.

CM Akhilesh Yadav along with Dr. Kalam, Akhilesh Yadav inaugurated a 250 kilowatt mini solar power system in the Kannauj district. The solar power installation is off-grid and would electrify Fakirpura and Chanduahar villages in Tirwa tehsil of Kannauj.

कन्नौज की धरती पर पहली बार आए पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न डा. एपीजे अब्दुल कलाम की एक झलक पाने के लिए सभी बेताब दिखाई दे रहे थे। दोपहर निर्धारित वक्त पर अपनी चिरपरिचित मुस्कान के साथ जैसे ही मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ वह मंच पर पहुंचे तो तालियों की गड़गड़ाहट से पूरा पांडाल गूंज उठा। उनके मंच पर पहुंचते ही कुछ औपचारिकताएं निभाते हुए सीधे मुख्यमंत्री ने अपना संक्षिप्त संबोधन देकर उन्हें जनसभा को संबोधित करने के लिए आमंत्रित किया। माइक संभालते ही पूर्व राष्ट्रपति ने अपने अंदाज में सभी का हिन्दी भाषा में अभिवादन किया। उसके बाद अंग्रेजी में अपनी स्पीच शुरू की। हालांकि उनके भाषण को अनुवादक ¨हदी में बोलकर बता रहे थे। इससे लोगों को उनकी बात समझने में कोई दिक्कत नहीं हुई। भारी उमस के बावजूद लोग उन्हें सुनने के लिए डटे रहे। कहीं कोई शोर-शराबा भी नहीं कर रहा है। सुरक्षा में तैनात पुलिस जवान भी पूरी तरह से खामोश होकर उनके एक-एक शब्द को सुन रहे थे।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आमंत्रण पर जिले में पहली बार आए पूर्व राष्ट्रपति को कन्नौज का इत्र भेंट किया गया। और जनसभा स्थल के करीब में स्थिति लाख-बहोसी का चित्र भी दिया गया। इत्रदान को देखते ही पूर्व राष्ट्रपति ने उसमें एक शीशी निकालकर सभी को दिखाई।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 7 जुलाई, 2015 को कन्नौज की तिर्वा तहसील में 250 कि0वाॅ0 के सोलर पावर प्लाण्ट के लोकार्पण अवसर पर बालिकाओं को पारिजात का पौधा प्रदान करते हुए।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 7 जुलाई, 2015 को कन्नौज की तिर्वा तहसील में 250 कि0वाॅ0 के सोलर पावर प्लाण्ट के लोकार्पण अवसर पर बालिकाओं को पारिजात का पौधा प्रदान करते हुए।

Welfare of the Poor top priority of the Samajwadi Government : CM Akhilesh Yadav

State Government focusing on providing power to the poor and adequate electricity in rural areas

Solar Energy conducive for environment because it is clean and green

Former President advocates use of solar energy to take pressure off conventional means of power generation

Dr Kalam administers people oath to work against social evils

Uttar Pradesh Chief Minister Mr. Akhilesh Yadav has said that the Samajwadi government was continuously working for the welfare of the poor and the marginalized and said it also formed to the top priority of the state government. The state government, he added was paying

special attention to providing power to the poor and adequate electricity to the rural areas.

He also highlighted that since solar energy was both green and clean it was conducive for the environment. The Chief Minister made these remarks on the occasion of dedicating the 250 KW solar power plant at Fakirpura village under Tirwa tehsil in Kannauj district today. The Chief Minister thanked former president of India Dr. APJ Abdul Kalam who dedicated the plant to the people.

Mr. Yadav pointed out how before the Samajwadi government came to power, Kannauj was deprived of development but was now on way to prosperity. Referring to the Fakirpura and Chanduahaar villages, the Chief Minister said both these villages were extremely backward and devoid of basic amenities but would now get free power supply from this solar power plant.

Congratulating the people of these two villages, Mr. Yadav said that now they would get electricity not only for domestic purposes but also for commercial activities and highlighted that 3.65 lakh units of electricity will be generated every year. This, he said, would bring down the carbon dioxide emission levels down by 0.75 million pound than what conventional plants do.

Every village in the villages were also given two-two LED bulbs of 05 and 07 wattage each and a 50 watt socket which will allow them to charge TV sets, mobile charger, fans and other facilities. Expressing hope that the quality of life of people living in this would be drastically changed, Mr. Akhilesh Yadav said other than running 20 water pumps, the solar energy would save money as the use of diesel and kerosene would also come down.

The Chief Minister also informed that solar packs were being made available for the houses under the Dr. Lohia Grameen Awas Yojna, which will enable two LED lights and a ceiling fan to run. He also highlighted the need of better roads and said that the state government was working to improve the infrastructure like roads etc.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 7 जुलाई, 2015 को कन्नौज की तिर्वा तहसील में 250 कि0वाॅ0 के सोलर पावर प्लाण्ट के लोकार्पण अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 7 जुलाई, 2015 को कन्नौज की तिर्वा तहसील में 250 कि0वाॅ0 के सोलर पावर प्लाण्ट के लोकार्पण अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए।

He also pointed out several welfare schemes like free laptops, free treatment at government hospitals for the poor, Kanya Vidya Dhan scheme and Samajwadi Pension Scheme. Former president and eminent scientist Dr. APJ Abdul Kalam also addressed the gathering and expressed his happiness at being part of the momentous occasion. He also detailed how use of solar energy did not produce carbon-dioxide and advocated more and more use of this form of energy saying that it also minimized pollution.

Dr. Kalam also advocated use of e-rickshaws and administered an oath to the people to fight against social evils. He inaugurated the plant by pressing a button. At the end of the event, under the ‘Beti Bachao-Beti Padhao’ Dr Kalam and Mr. Yadav gifted two ‘Parijaat’ trees to two girls. These would be planted at the collectorate. The Chief Minister gifted Dr. APJ Abdul Kalam ‘itra’ made in Kannauj.

Also present at the function were ministers Mr. Ahmad Hasan, Mr. Rajendra Chowdhary, Mr. Balram Yadav and Mr. Vijay Bahadur Pal, legislators, senior officials of the state government and district administration and local people.