Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने विभिन्न महत्वपूर्ण परियोजनाओं का शुभारम्भ, लोकार्पण एवं शिलान्यास किया

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने विभिन्न महत्वपूर्ण परियोजनाओं का शुभारम्भ, लोकार्पण एवं शिलान्यास किया

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने विभिन्न महत्वपूर्ण परियोजनाओं का शुभारम्भ, लोकार्पण एवं शिलान्यास किया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज यहां अपने सरकारी आवास पर नोएडा, ग्रेटर नोएडा, यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण एवं नोएडा मेट्रो रेल कारपोरेशन की लगभग 4,357 करोड़ रुपये की महत्वपूर्ण योजनाओं का शुभारम्भ, लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। आज जिन परियोजनाओं का शुभारम्भ किया गया उनमें बाॅटेनिकल गार्डेन से कालिंदी कुंज तक मेट्रो लाइन का ट्रायल रन एवं नोएडा-ग्रेटर नोएडा ए.सी. बस सेवा भी शमिल हैं। इस मौके पर उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार जनता एवं सरकार के बीच की दूरी कम करते हुए प्रदेश के विकास के लिए काम कर रही है।

श्री यादव ने कहा कि जिस प्रकार लखनऊ नगर में आबादी के बीच डाॅ0 राम मनोहर लोहिया पार्क तथा जनेश्वर मिश्र पार्क का निर्माण समाजवादी सरकारों द्वारा कराया गया, उसी तर्ज पर नोएडा/ग्रेटर नोएडा में ढाई हजार एकड़ में समाजवादी पार्क बनाया जाएगा। यह पार्क हरा-भरा होने के साथ ही एशिया का सबसे बड़ा पार्क होगा। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार केवल लखनऊ, नोएडा आदि शहरों का ही विकास नहीं कर रही है, बल्कि संतुलन बनाकर गांव, गरीब एवं किसानों के लिए भी काफी काम किया जा रहा है। साथ ही प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में भी कई विश्वस्तरीय परियोजनाएं पूरी करायी गई, जिनमें वाराणसी, सोनभद्र एवं बाबतपुर-भदोही 04-लेन सड़क भी शामिल है।

आने वाले समय में नगरों में और अधिक जरूरी सुविधाओं के विकास का आश्वासन देते हुए श्री यादव ने कहा कि यो तो सरकारी परियोजनाएं समय से पूरा न होने के लिए बदनाम हैं। लेकिन वर्तमान प्रदेश सरकार ने राज्य में कई विश्वस्तरीय परियोजनाओं का शिलान्यास कराकर उन्हें निर्धारित समय से पहले पूरा कराते हुए जनता को लोकार्पित किया है, जिसका लाभ प्रदेश की जनता को मिल रहा है।

उन्होंने ‘108’ समाजवादी स्वास्थ्य सेवा का उल्लेख करते हुए कहा कि प्रदेश के दूर-दराज के क्षेत्रों के लोगों को उनकी एक काॅल पर इस सेवा के तहत एम्बुलेन्स उपलब्ध कराई जा रही है। इसी प्रकार ‘यूपी 100’ परियोजना के माध्यम से प्रदेश की जनता को त्वरित सुरक्षा प्रदान करने का काम किया जा रहा है। इसके अलावा, करीब 18 लाख छात्र-छात्राओं को निःशुल्क लैपटाॅप एवं 55 लाख गरीब परिवारों को समाजवादी पेंशन योजना का लाभ मिल रहा है। शीघ्र ही पशुओं के त्वरित इलाज के लिए भी परियोजना शुरू होने जा रही है। आने वाले समय में निःशुल्क समाजवादी स्मार्ट फोन योजना से जनता को राहत पहुँचाने का काम किया जाएगा।

प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण परियोजनाओं में किसानों द्वारा दिए गए सहयोग के लिए उन्हें बधाई देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली राज्य सरकार द्वारा किसानों की भूमि प्राप्त करने के लिए उनका भारी उत्पीड़न किया गया। यहां तक की कई किसान नेताओं पर मुकदमें दर्ज करा दिए गए, जिन्हें वर्तमान राज्य सरकार ने वापस लेने का काम किया। लेकिन प्रदेश के यही किसान आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे सहित तमाम परियोजनाओं के लिए आगे बढ़कर सहयोग प्रदान कर रहे हैं, क्योंकि राज्य सरकार उनकी सहमति से पर्याप्त मुआवजा देकर उनकी भूमि प्राप्त कर रही है।

उन्होंने कहा कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे बनकर तैयार हो गया है, इसी प्रकार समाजवादी पूर्वान्चल एक्सप्रेस-वे के लिए काम चल रहा है। जब यह एक्सप्रेस-वे बन जाएगा तो उत्तर प्रदेश सम्भवतः पहला ऐसा राज्य होगा, जिसके पास इतने लम्बे एक्सप्रेस-वे होंगे। निश्चित रूप से समाजवादी सरकार द्वारा बनवाए गए ये एक्सप्रेस-वे प्रदेश में खुशहाली एवं तरक्की लाने का काम करेंगे।

श्री यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार हमेशा महापुरूषों एवं स्वतंत्रता सेनानियों के सम्मान के लिए काम करती रही है। डाॅ0 राम मनोहर लोहिया पार्क, जनेश्वर मिश्र पार्क एवं जय प्रकाश नारायण अन्तर्राष्ट्रीय केन्द्र का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि इसी प्रकार नोएडा एवं ग्रेटर नोएडा में भी स्थानीय स्वतंत्रता सेनानियों के सम्मान में प्राधिकरण आवश्यक कदम उठाएंगे। इसके साथ ही, इस क्षेत्र में महिलाओं की शिक्षा के लिए भी जरूरत के हिसाब से कार्य किया जाएगा।

इससे पूर्व, मुख्य सचिव श्री राहुल भटनागर ने कहा कि किसी प्रदेश के विकास में बुनियादी सुविधाओं की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। वर्तमान राज्य सरकार निर्माण इकाइयों के लिए निवेश को बढ़ावा दे रही है, जिससे रोजगार के अधिक से अधिक अवसर पैदा हो सकें।

मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार श्री आलोक रंजन ने मुख्यमंत्री के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने विगत साढ़े चार वर्षाें में जिन परियोजनाओं की शुरूआत की थी, उनमें से अधिकांश अब पूरी हो चुकी हैं। कार्यक्रम को राज्य सभा के सांसद श्री सुरेन्द्र नागर एवं प्रमुख सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास श्री रमा रमण ने भी सम्बोधित किया।

आज जिन परियोजनाओं का शुभारम्भ, लोकार्पण एवं शिलान्यास किया गया उनमें नोएडा में एम.पी.-2 मार्ग पर नवनिर्मित 06-लेन एलिवेटिड रोड (लागत 415 करोड़ रुपए), एन.एच.-24 पर सेक्टर-62 व 63 के तिराहे पर 06-लेन नवनिर्मित अण्डरपास (लागत 133.85 करोड़ रुपए), सेक्टर-21ए में 25 हजार दर्शक क्षमता का नवनिर्मित अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम

(लागत 126 करोड़ रुपए) तथा सेक्टर-32, 35, 39 व 51 के चैराहों पर नवनिर्मित अण्डरपास (लागत 65 करोड़ रुपए), नोएडा क्षेत्र में 35 किलोमीटर लम्बाई के नवनिर्मित साइकिल ट्रैक (लागत 28.53 करोड़ रुपए), सेक्टर-95 में नवनिर्मित भूमिगत कार पार्किंग (लागत 37.68 करोड़ रुपए), ग्राम होशियारपुर सेक्टर-51 में नवनिर्मित बालिका इण्टर काॅलेज (लागत 12.29 करोड़ रुपए), शाहदरा ड्रेन पर फिल्म सिटी एवं डी0एल0एफ0 माॅल के मध्य नवनिर्मित पुल (लागत 7.25 करोड़ रुपए), सेक्टर-71 व 135 में नये थाना भवनों का निर्माण (लागत 6 करोड़ रुपए), सेक्टर-34 में नवनिर्मित नारी निकेतन (लागत 5.84 करोड़ रुपए) और सेक्टर 117, 118 व 122 में समाजवादी आवास योजना के तहत 1250 भवनों का (लागत 110 करोड़ रुपए) लोकार्पण शामिल हैं। इसके साथ ही, नोएडा प्राधिकरण में जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया, उनमें सेक्टर-148 व 150 में एलीवेटेड रोटरी इंटरचेंज (अनुमानित लागत 140 करोड़ रुपए) तथा सेक्टर-71, नोएडा से नाॅलेज पार्क-5, ग्रेटर नोएडा तक नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो रेल लाइन (अनुमानित लागत 2668.16 करोड़ रुपए) शामिल हैं।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की जिन परियोजनाओं का लोकार्पण किया गया उनमें ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के मुख्य कार्यालय के प्रशासनिक भवन (लागत 325 करोड़ रुपए), शहीद विजय सिंह पथिक क्रीड़ा संकुल (लागत 117.60 करोड़ रुपए) तथा सभी वर्गों के वहन करने योग्य 1950 भवनों (लागत 113.41 करोड़ रुपए) एवं ग्रेटर नोएडा में निर्मित साइकिल ट्रैक (लागत 12.50 करोड़ रुपए) शामिल हैं। इसके अलावा, मुख्यमंत्री ने यमुना एक्सप्रेस-वे प्राधिकरण के 04 मंजिले समाजवादी अफोर्डेबल भवनों (लागत 284 करोड़ रुपए) के साथ-साथ नवनिर्मित साइकिल ट्रैक (लागत 8 करोड़ रुपए) का भी लोकार्पण किया।

कार्यक्रम में बेसिक शिक्षा मंत्री श्री अहमद हसन, मनोरंजन कर राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री मदन चैहान, प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री संजय अग्रवाल, विशेष सचिव औद्योगिक विकास श्री अनिल पाठक सहित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि, अधिकारी उपस्थित थे।