Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हिंदी कवि गोपालदास सक्सेना ‘नीरज’ को अपने सरकारी आवास पर सम्मानित किया
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हिंदी कवि गोपालदास सक्सेना ‘नीरज’ को अपने सरकारी आवास पर सम्मानित किया

Chief Minister Akhilesh Yadav with poet and author Padmashree Gopaldas Saxena Neeraj, to wish him on his Birthday. He has written lyrics for many popular hindi films.

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हिंदी कवि गोपालदास सक्सेना ‘नीरज’ को अपने सरकारी आवास पर सम्मानित किया। सीएम ने उन्हें परिवार सहित अपने आवास पर बुलाया था।

‘सिर्फ बिछड़ने के लिए है यह मेल मिलाप, एक मुसाफिर हम यहां, एक मुसाफिर आप’ इन पंक्तियों को लिखने वाले ‘गीतों के राजकुमार’ कवि गोपाल दास ‘नीरज’ जीवन के 92 वर्ष पूरे करने के बाद 93 वें वर्ष में प्रवेश कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हिंदी कवि गोपालदास सक्सेना ‘नीरज’ को अपने सरकारी आवास पर सम्मानित किया
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हिंदी कवि गोपालदास सक्सेना ‘नीरज’ को अपने सरकारी आवास पर सम्मानित किया

4 जनवरी 1924 को इटावा जिले के पुरावली गांव में गोपाल दास सक्सेना ‘नीरज’ का जन्म बेहद साधारण परिवार में हुआ। संघर्ष के साथ शिक्षा को भी जारी रखा और धर्म समाज महाविद्यालय में हिंदी विभाग में शिक्षक बने। गीत और कविता में लोकप्रियता को छुआ। देवानंद के साथ चार दशक तक साथ रहा। मुंबई में लंबा वक्त गुजारा।