Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
मार्गों के 4-लेन चौड़ीकरण, सुदृढ़ीकरण के प्रस्तावों को मंजूरी
मार्गों के 4-लेन चौड़ीकरण, सुदृढ़ीकरण के प्रस्तावों को मंजूरी

मंत्रिपरिषद द्वारा जनपद उरई, आजमगढ़ तथा फिरोजाबाद के विभिन्न मार्गों के 4-लेन चौड़ीकरण, सुदृढ़ीकरण के प्रस्तावों को मंजूरी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में आज यहां लोक भवन में सम्पन्न मंत्रिपरिषद की बैठक में जिला मुख्यालयों को 4-लेन से जोड़े जाने की योजना के तहत जनपद उरई, आजमगढ़ तथा फिरोजाबाद के विभिन्न मार्गों के 4-लेन चौड़ीकरण, सुदृढ़ीकरण के प्रस्तावों को मंजूरी प्रदान की गयी।

मंत्रिपरिषद द्वारा लिये गये निर्णय के अनुसार जनपद उरई में बिलरायां पनवाड़ी मार्ग (राज्य मार्ग संख्या-21), जनपद आजमगढ़ में इलाहाबाद-जौनपुर -आजमगढ़ मार्ग (राज्य मार्ग), जनपद फिरोजाबाद में शिकोहाबाद भोगांव मार्ग (रा0मा0सं0-84) एवं ग्राम अरावं (2.50 कि0मी0) ग्राम भारौल (1.200 कि0मी0) में बाईपास मार्ग का 4-लेन चौड़ीकरण, सुदृढ़ीकरण कराया जाएगा। साथ ही, जनपद रायबरेली में बछरावां कस्बा में एन0एच0-24बी0 एवं बहराइच-बांदा मार्ग (राज्य मार्ग संख्या-13) हेतु बाईपास का 2-लेन निर्माण कराने का निर्णय लिया गया है।

जनपद उरई में बिलरायां पनवाड़ी मार्ग (राज्य मार्ग संख्या-21) के चैनेज, 318.00 से 352.00 तक (लम्बाई 34.00 कि0मी0) 4-लेन निर्माण किया जाना है। बिलरायां पनवाड़ी मार्ग (राज्य मार्ग संख्या-21) जो कि जनपद पीलीभीत में बिलरायां से प्रारम्भ होकर जनपद सीतापुर, नैमिषारण्य तीर्थ, कन्नौज दिबियापुर, औरैया होते हुए उरई में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-25 से होकर राठ होते हुए पनवाड़ी को जोड़ता है। इस मार्ग के निर्मित हो जाने से राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-2 (आगरा-कानपुर मार्ग), राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-25 (झांसी कानपुर मार्ग) तथा राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-76 झांसी, बांदा, इलाहाबाद को जोड़ने वाला मार्ग उपलब्ध हो जाएगा। व्यय वित्त समिति द्वारा इस परियोजना की लागत 27135.12 लाख रुपये अनुमोदित की गयी है।

जनपद आजमगढ़ में इलाहाबाद-जौनपुर-आजमगढ़ मार्ग (राज्य मार्ग) (लम्बाई 72.71 कि0मी0) का 4-लेन चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण किया जाना है। मार्ग का 4-लेन निर्माण कार्य हो जाने से छोटे वाहन हेतु सुरक्षित एवं दुर्घटना मुक्त काॅरीडोर उपलब्ध हो जाएगा तथा ईंधन की बचत भी होगी। इसके अतिरिक्त मार्ग पर खराब हुए वाहनों को सुरक्षित पार्किंग एवं मरम्मत कार्य हेतु स्थान उपलब्ध हो जाएगा, जिससे अवरोध रहित यातायात सम्भव होगा और प्रदेश के अतिपिछड़े पूर्वांचल क्षेत्र का विकास सम्भव हो सकेगा। व्यय वित्त समिति द्वारा इस परियोजना की लागत 64932.13 लाख रुपये अनुमोदित की गयी है।

जनपद फिरोजाबाद में शिकोहाबाद भोगांव मार्ग (रा0मा0सं0-84) के चैनेज 0.000 से 11.500, 13.500 से 16.800, 16.200 से 21.000 (17.600 कि0मी0) एवं ग्राम अरावं (2.50 कि0मी0) ग्राम भारौल 1.200 कि0मी0 में बाईपास मार्ग (21.800 कि0मी0) का 4-लेन चौड़ीकरण व सुदृढ़ीकरण कार्य किया जाना है। यह राष्ट्रीय मार्ग-2 (दिल्ली-कलकत्ता मार्ग) पर कि0मी0 260 में स्थित शिकोहाबाद आबादी से प्रारम्भ होकर मैनपुरी में राज्य मार्ग संख्या-83 इटावा-मैनपुरी-कुरावली 4-लेन मार्ग को क्रास करते हुए भोगांव में राष्ट्रीय राज मार्ग संख्या-91 (दिल्ली-कानपुर मार्ग) पर कि0मी0 266 में स्थित भोगांव तक जाता है। आगरा से फिरोजाबाद होते हुए कन्नौज की ओर जाने वाला भारी यातायात इस मार्ग से गुजरता है तथा रा0मा0-91 (दिल्ली-कानपुर मार्ग) को जोड़ता है। भारी यातायात के कारण मार्ग पर यातायात जाम की स्थिति बनी रहती है। इसलिए जनहित में इसका 4-लेन चौड़ीकरण आवश्यक है। इस परियोजना पर 19754.29 लाख रुपये की लागत आएगी।

जनपद रायबरेली में बछरावां कस्बा में एन0एच0-24बी0 एवं बहराइच-बांदा मार्ग (राज्य मार्ग संख्या-13) हेतु बाईपास का निर्माण कार्य (लम्बाई-13.500 कि0मी0) कराया जाना है। बहराइच-बांदा मार्ग पर बछरावां कस्बे में उपरिगामी सेतु का निर्माण हो जाने के कारण यातायात को लखनऊ तथा रायबरेली की ओर जाने के लिए कोई मार्ग उपलब्ध नहीं है। इस हेतु वर्तमान में बरछावां कस्बे के उपरिगामी सेतु के सर्विस मार्ग का उपयोग किया जा रहा है। रेलवे द्वारा उपरिगामी सेतु बन जाने के फलस्वरूप सम्पार को स्थायी रूप से बन्द किया जाना है। रेलवे सम्पार बन्द हो जाने से लखनऊ एवं रायबरेली की ओर जाने वाला यातायात बाधित हो जाएगा। इसलिए रायबरेली बछरावां कस्बे में 2-लेन बाईपास का निर्माण कराया जा रहा है। इस परियोजना पर 3309.54 लाख रुपये का व्यय भार सम्भावित है।