Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 27 जनवरी, 2015 को लखनऊ में ईउत्तर प्रदेश काॅन्फ्रेंस के शुभारम्भ के अवसर पर।

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 27 जनवरी, 2015 को लखनऊ में ईउत्तर प्रदेश काॅन्फ्रेंस के शुभारम्भ के अवसर पर।

The e-UttarPradesh event, one of the flagship events of IT & Electronics department, Government of Uttar Pradesh, is being organised on 27 January 2015 at “Vivanta by Taj” in Lucknow. Sh. Akhilesh Yadav, Chief Minister of Uttar Pradesh will be the Chief Guest at the event. The event will be attended by senior officials of the state and centre government along with the leaders of key Information Technology & Electronics companies and the leading Associations.

 

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव

मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव

Elets Technomedia Pvt Ltd is the organiser of the event. Elets has also organised Asia’s most landmark events focussing on Governance, Healthcare and Education. KPMG, the leading consulting firm, is the IT Policy Implementation Unit Partner of the event.

इनवेस्टर्स मीट: नोएडा में लगेगा सैमसंग प्लांट, पांच हजार करोड़ के एमओयू साइन

लखनऊ. मोबाइल उद्योग को बढ़ावा देने के लिए यूपी सरकार ने एक नई पहल की है। इसके तहत मंगलवार को ई-उत्तर प्रदेश इनवेस्टर्स मीट का आयोजन किया गया। इसमें देशभर से आए उद्यमियों का जमावड़ा लगा। सीएम अखिलेश यादव ने इनवेस्टर्स मीट की अध्यक्षता की। इस दौरान उन्होंने इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन, लावा स्पाइस और इओएन के साथ कई अहम योजनाओं को लेकर करीब पांच हजार करोड़ रुपए के मेमोरेंडम ऑफ अंडरस्टैंडिंग (एमओयू) पर साइन किए। इससे कुल 50 हजार युवाओं को रोजगार मिलेगा। मीट में इसके अलावा नोएडा में सैमसंग मोबाइल प्लांट और गाजियाबाद में आईटी पार्क बनाने पर भी फैसला लिया गया।

लखनऊ में गणतंत्र दिवस परेड के पुरस्कृत प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र प्रदान करते हुए। साथ में हैं, मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव।

लखनऊ में गणतंत्र दिवस परेड के पुरस्कृत प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र प्रदान करते हुए। साथ में हैं, मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव।

इन्वेस्टर्स मीट में इलेक्ट्रॉनिक इंडस्ट्री एसोसिएशन ऑफ इंडिया के जनरल सेक्रेटरी राजू गोयल, इंडिया इलेक्ट्रॉनिक्स एंड सेमी कंडक्टर के चेयरमैन अशोक चंडक, इंडियन सेल्युलर एसोसिएशन के नेशनल प्रेसिडेंट पंकज मोहिंदू, स्पाइस ग्रुप के दिलीप मोदी, एम्बेसी ऑफ रिपब्लिक कोरिया के एम्बेसेडर जून जीयू ली सहित अन्य बिजनेस टाइकूनों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम की शुरुआत उनके स्वागत के साथ हुई। कार्यक्रम में सैमसंग प्रतिनिधि के तौर पर मौजूद हम चे लांग ने कहा कि सैमसंग के करीब सात हजार एम्प्लोयी यूपी में काम करते हैं। यूपी में कई संभावनाए हैं। इसलिए हमने नोएडा में एक रिसर्च सेंटर बनाने का फैसला किया है। इसपर जल्द ही काम शुरू हो जाएगा।

 

श्री अखिलेश यादव की उपस्थिति में 27 जनवरी, 2015 को लखनऊ में ईउत्तर प्रदेश काॅन्फ्रेंस में एम0ओ0यू0 का आदानप्रदान करते हुए अधिकारीगण।

श्री अखिलेश यादव की उपस्थिति में 27 जनवरी, 2015 को लखनऊ में ईउत्तर प्रदेश काॅन्फ्रेंस में एम0ओ0यू0 का आदानप्रदान करते हुए अधिकारीगण।

कार्यक्रम में सीएम अखिलेश ने सभी उद्यमियों का स्वागत किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि इनवेस्टर्स मीट से यूपी को फायदा होगा। देश-विदेश की सभी बड़ी कंपनियों का यूपी से रिश्ता है। इनके यूपी में निवेश करने से रोजगार की संभावनाए बढ़ेंगी। इसके साथ ही मेक इन इंडिया में यूपी की बड़ी भागीदारी होगी। अखिलेश ने कहा कि हम मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर को ज्यादा से ज्यादा मजबूत करना चाहते हैं। तभी रोजगार के अवसर पैदा होंगे। इसके लिए पॉलिसी के तहत हम निवेश करने वाली कंपनियों को हर संभव मदद और सहयोग देंगे।

राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 29 जनवरी, 2015 को रिजर्व पुलिस लाइन्स, लखनऊ में आयोजित ‘बीटिंग दी रिट्रीट’ कार्यक्रम का अवलोकन करते हुए।

राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव 29 जनवरी, 2015 को रिजर्व पुलिस लाइन्स, लखनऊ में आयोजित ‘बीटिंग दी रिट्रीट’ कार्यक्रम का अवलोकन करते हुए।

आईटी सेक्टर में लाएंगे 360 डिग्री

सीएम अखिलेश ने इस मौके पर अपनी सरकार की उपलब्धियां भी गिनाई। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने अपने घोषणा पत्र के हर वादों पर अमल किया है। जनधन योजना के तहत यूपी में सबसे ज्यादा अकाउंट खुले हैं। बैंक के ब्रांच भी खोले गए हैं। गन्ना, आलू, चीनी समेत कई उत्पादों में हम आगे हैं। प्रदेश के विकास के लिए हमने बजट भी बढ़ाया है। हमने स्किल डेवपलमेंट प्रोग्राम शुरू किया। इसके तहत 40 लाख बच्चों ने ऑनलाइन आवेदन किया। इसके अलावा हम आईटी सेक्टर में भी बड़े पैमाने पर काम कर रहे हैं। आईटी सेक्टर में 360 डिग्री लाया जाएगा।