किसान

Farmer troubled by debt in Badaun himself in Yogiraj

उत्तर प्रदेश के योगी राज में बदायूं में कर्ज से परेशान किसान ने की खुदकशी

सहसवान (बदायूं) में कर्ज न चुका पाने परेशान अधेड़ किसान ने फंदे पर झूलकर खुदकशी कर ली। परिजनों की सूचना पर पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया। किसान की मौत से उसके परिवार में हड़कंप मचा हुआ है।

कोतवाली क्षेत्र के गांव शिकारपुर निवासी लालाराम (50) पुत्र निरोत्तम शुक्रवार शाम घर से खेत की रखवाली करने की बात कहकर निकले थे। जब काफी देर बाद भी वह घर नहीं लौटे तो परिवार के लोग उन्हें तलाशते हुए खेत पहुंचे। वहां लालाराम का शव एक पेड़ पर फंदे पर झूल रहा था। लालाराम के खुदकशी करने की सूचना पर ग्रामीणों की भीड़ एकत्र हो गई। ग्राम प्रधान तहसीलदार सिंह ने इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को दी। शनिवार को शव का अंतिम संस्कार कर दिया। परिजनों का कहना है कि मृतक ने कुछ समय पहले ट्रैक्टर के लिए किसान क्रेडिट कार्ड पर एक बैंक से डेढ़ लाख रुपये का कर्जा लिया था। इसके अलावा गांव के लोगों से भी 50 हजार रुपये ले रखे थे। जिसकी वह अदायगी नहीं कर पा रहा था। कर्ज चुकाने के लिए लालाराम को अपनी कुछ जमीन भी बेचनी पड़ी थी। कर्ज न चुका पाने के चलते वह कुछ समय से तनावग्रस्त रहने लगा था और नशा भी करता था। तहसीलदार धीरेंद्र कुमार का कहना है कि किसान के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। इसके बाद ही आगे कोई कार्रवाई की जा सकेगी। मृतक की है दो अविवाहित बेटियां

मृतक लालाराम के परिवार में पत्नी दतिया के अलावा दो पुत्र और दो पुत्रियां हैं। पुत्र संजू और दुर्गेश का विवाह हो चुका है जबकि पुत्री अनीता (14) और गीता (12) अविवाहित है। मृतक के पास करीब 7-8 बीघा जमीन बची है। जिस पर खेतीबाड़ी कर वह परिवार का पालन पोषण कर रहा था। वर्जन

आत्महत्या की जानकारी मिली थी। किसी तरह की कोई तहरीर नहीं आई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

-कुशलवीर सिंह, इंस्पेक्टर सहसवान

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *