Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
रेलमंत्री सुरेश प्रभु
रेलमंत्री सुरेश प्रभु

पीड़ा से कराहती रही गर्भवती महिला, नहीं चेता रेलवे -अहमदाबाद से हाजीपुर जा रही महिला

रेलमंत्री सुरेश प्रभु को ट्वीट किया फिर भी न मिला गर्भवती को इलाज

स्लीपर क्लास बोगी एस-13 की सीट नंबर छह और आठ पर उनका आरक्षण था। संगीता चार माह की गर्भवती है। ट्रेन शुक्रवार रात 3:20 बजे लखनऊ पहुंची। ट्रेन लखनऊ से आगे बढ़ी तो गर्भवती महिला को पीड़ा होने लगी। पति अभिषेक ने टीटीई से गुहार लगायी। उसने रेल मंत्री के ट्विटर पर भी पोस्ट कर मदद मांगी। अभिषेक को बताया गया कि मऊ स्टेशन पर मदद मिलेगी। मऊ स्टेशन आया, लेकिन कोई डॉक्टर नहीं पहुंचा।

महिला का पति कभी आरपीएफ तो कभी स्टेशन मास्टरों के आगे गुहार लगाता रहा। महिला यात्री दर्द से तड़पते हुए हाजीपुर तक पहुंच गई।
ट्रेन 19165 साबरमती एक्सप्रेस से हाजीपुर निवासी संगीता अपने पति अभिषेक के साथ अहमदाबाद से हाजीपुर की यात्रा कर रही थी।